केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने स्तंभकार अभिषेक गुप्ता समेत अन्य को किया सम्मानित


कॉन्स्टिट्यूशन क्लब ऑफ इंडिया में ‘गंगा का लाल’ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा, ‘हमारे पास पानी की कोई कमी नहीं है, यह सिर्फ अच्छे प्रबंधन की कमी है. हमें यह सोचना चाहिए कि हम कृषि क्षेत्र में पानी का उचित उपयोग कैसे कर सकते हैं और इसका प्रबंधन कैसे कर सकते हैं क्योंकि अधिकांश पानी का उपयोग कृषि में किया जा रहा है।”

उन्होंने कहा, “हमें अपने जल पारिस्थितिकी तंत्र को बनाए रखने के लिए वर्षा जल के संरक्षण की आवश्यकता है। हमें सोचना चाहिए कि जल संरक्षण के प्रति हमारा कर्तव्य क्या है और हम सभी को इस अभियान में शामिल होना चाहिए।”

इस अवसर पर शेखावत ने जल संरक्षण में विशेष योगदान देने वाले देश भर के प्रख्यात सामाजिक कार्यकर्ता, पर्यावरणविद् और विद्वानों को सम्मानित किया. उन्होंने स्तंभकार और राजनीतिक विश्लेषक अभिषेक गुप्ता को “गंगा का लाल” पुरस्कार प्रदान किया, जिन्होंने अपने लेखों के माध्यम से लोगों को प्रदूषण मुक्त समाज और जल संरक्षण के बारे में जागरूक किया। गुप्ता लंबे समय से सामाजिक मुद्दों पर लिख रहे हैं। गुप्ता के साथ संजय यादव को भी उनके सामाजिक कार्यों के लिए सम्मानित किया गया।

इस कार्यक्रम में जल संरक्षण, ग्लेशियरों का संरक्षण, भूजल स्तर, पेयजल, जल प्रदूषण समेत जल से जुड़े विभिन्न विषयों पर गहराई से चर्चा की गई. विशिष्ट अतिथि अनुभव मोहंती (सांसद, केंद्रपाड़ा ओडिशा), न्यायमूर्ति करुणा नंद बाजपेयी और विशिष्ट अतिथि रवींद्र कुमार (जिला मजिस्ट्रेट, झांसी) ने जल संरक्षण से संबंधित मुद्दों पर अपने विचार व्यक्त किए।

उल्लेखनीय है कि भारत सरकार जल संरक्षण की दिशा में आक्रामक तरीके से कदम उठा रही है। जल संरक्षण के क्षेत्र में कार्यरत सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं अन्य योगदानकर्ताओं को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार समय-समय पर उन्हें सम्मानित करती रहती है।



Author: admin

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Posting....