14.1 C
New Delhi
Tuesday, November 30, 2021
Home Blog

अयोध्या सामूहिक विवाह में राजनीतिक भाषण से दूर रहे सीएम योगी

0


अयोध्या


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का उद्बोधन आज राजनीतिक भाषण से दूर रहे सीएम योगी । आज संविधान दिवस है इस मौके पर श्रमिको को सम्मान देने के लिए संविधान दिया है। सरकार खुद खड़ी होकर कन्यादान कर रही है। इससे अच्छा पुण्य कार्य और क्या हो सकता है। समाज के अंतिम पायदान पर बैठे सारे श्रमिको को लाभ मिल रहा है। हर श्रमिक कन्या पोषण कर रहे हैं। 54 लाख श्रमिकों को भरण-पोषण भत्ता दिया गया। 2 लाख रुपए सामाजिक सुरक्षा,5 लाख रुपये स्वास्थ्य सुरक्षा दी जा रही है। इन श्रमिको के पसीने से राष्ट्र की आधारशिला रखी गई है। इनकी कन्याओं की शादी हो रही है। सब की बेटी अपनी बेटी मानकर सभी लोग सहयोग करें।आज अयोध्या मंडल में 3915 जोड़ों का विवाह हुआ है।पहले बाल विवाह दहेज प्रथा एक कुप्रथा थी दोनों को तिलांजलि दी जा रही है। 2017 के पहले प्रदेश में भ्रष्टाचार था अराजकता थी लेकिन 2017 के बाद सरकार के गठन के बाद भ्रष्टाचार मुक्त भयमुक्त प्रदेश हुआ है। गरीबों को शौचालय दिया। आवास दिया। 2 करोड़ 60 लाख लोगों को सरकार ने शौचालय बनवा कर दिया। जहां बिजली आपूर्ति नहीं हो रही थी वहां बिजली की आपूर्ति हो रही है। मिशन शक्ति के तहत बेटियां पुलिस व शिक्षक बन रही है और समाज को एक नई दिशा दे रही हैं। राजनीतिक भाषण से दूर रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

महिला किसानो व अधिकारियो के साथ एक इंटरफेस मीटिंग का हुआ आयोजन

0

अयोध्या (मसौधा )

कृषि विज्ञान केंद्र मसौधा में महिला किसानों व अधिकारियों के साथ इंटरफ़ेस मीटिंग का आयोजन हुआ जिसमे यूरोपियन यूनियन चाइल्ड फंड इंडिया व पारस फाउंडेशन के सहयोग से संचालित ई यू परियोजना के तहत बीस महिला किसानों के साथ कृषि विज्ञान केंद्र मसौधा में कृषि वैज्ञानिकों व अधिकारियों के साथ इंटरफ़ेस मीटिंग करवाया गया | चाइल्डफंड टीम व महिलाओं के द्वारा उपस्थित अधिकारियों और वैज्ञानिकों का बुके देकर स्वागत किया गया |विज्ञान केंद्र के डायरेक्टर डॉक्टर एस के यादव जी द्वारा कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए विज्ञान केंद्र से जुड़े सभी योजनाओं, प्रशिक्षण, फल उत्पाद की विस्तृत जानकारी दी गई |

वैज्ञानिक डॉ अर्चना सिंह द्वारा महिलाएं कैसे सशक्त हो, समूह के साथ जुड़ कर आत्मनिर्भर बने, उद्यम से जुड़े वन नेशन वन प्रोडक्ट के तहत अपनी कंपनी अयोध्या प्रगति में प्रोडक्ट उत्पाद का मार्केट में लाकर अपनी आजीविका को कैसे बढ़ाएं, ऑनलाइन मार्केट से जुड़े इन सब पर विस्तृत जानकारी दी गई और आवश्यकता पड़ने पर उन्होंने हर संभव मदद और प्रशिक्षण देने की बात कही | अर्चना सिंह द्वारा देसी गाय रखने के फायदे व सरकार से उन पर अनुदान की जानकारी भी दी गई |

पारस फाउंडेशन संस्था से महिला किसान कविता जी द्वारा पशुपालन कैसे किया जाए सवाल पर अर्चना जी ने विस्तृत जानकारी दी उस से जुड़े उत्पाद को मार्केट में कैसे लाएं अपना स्वास्थ्य का ध्यान कैसे रखें इसके बारे में पूरी जानकारी दी गई जिला उद्यान अधिकारी रवि प्रकाश त्रिपाठी जी ने फल ,फूल, मसाला सब्जी की खेती पर अनुदान व 1 वर्ष 2 वर्षीय फसल के बारे में महिलाओं को विस्तृत जानकारी दी | एन आर एल एम के ब्लॉक मैनेजर पवन जी द्वारा महिलाओं को समूह से जोड़कर लाभ कैसे प्राप्त करें जानकारी दी गई सोहावल ब्लॉक के कृषि अधिकारी डॉ अमरेंद्र प्रताप सिंह जी ने महिलाओं को कृषि सम्मान निधि प्रधानमंत्री मान धन योजना व एफ पी सी को कृषि विभाग में रजिस्ट्रेशन करवाकर योजनाओ से जोड़कर फार्म मशीनरी बैंक में अनुदान व कस्टम हायरिंग रेसिंग फ्लोरिंग में अनुदान कैसे प्राप्त करे इसके बारे में विस्तृत जानकारी दी | इस मौके पर चाइल्डफंड टीम से दीप ज्योति, प्रशांता कुमार मंडल, रंजन श्रीवास्तव, संदीप कुमार, विपिन श्रीवास्तव फाउंडेशन से नीरज ,रोहित, मुकुट बिहारी ,राजेंद्र व 20 महिला किसान उपस्थित रहे।

आईपीएस आशीष तिवारी समेत तीन पुलिसकर्मियों पर आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में मुकदमा दर्ज

0

अयोध्या ।। अयोध्या में पंजाब नेशनल बैंक (PNB) की महिला अधिकारी श्रद्धा गुप्ता ने शनिवार को खुदकुशी कर ली। श्रद्धा गुप्ता को आत्महत्या के लिए मजबूर करने के आरोप में आईपीएस आशीष तिवारी समेत तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर (FIR) हो गई है। श्रद्धा गुप्ता ने शनिवार को अपने किराये के घर में दुपट्टे से लटक कर आत्महत्या कर ली थी. श्रद्धा ने सुसाइड नोट में लिखा था कि उनकी खुदकुशी के लिए आईपीएस अफसर आशीष तिवारी, हेड कांस्टेबल अनिल रावत और विवेक गुप्ता को जिम्मेदार हैं। श्रद्धा पिछले पांच साल से अयोध्या के पंजाब नेशनल बैंक में काम कर रही थीं. उनके भाई रीतेश गुप्ता ने बताया कि घर वालों ने उन्हें काल रात फोन किया तो उनका फोन नहीं उठा।घर वालों ने समझा कि वो शायद सो गई हैं। लेकिन सुबह 10-12 बार फोन करने पर भी जब उनका फोन नहीं उठा तो उन लोगों को घबराहट हुई और उन्होंने उनके मकान मालिक को फोन किया। उन्होंने चेक करने के बाद बताया कि श्रद्धा ने फांसी लगा ली है. श्रद्धा ने जिन तीन लोगों को खुदकुशी के लिए जिम्मेदार ठहराया है, उनमें आईपीएस आशीष तिवारी कुछ साल पहले अयोध्या में एसएसपी रह चुके हैं, और विवेक गुप्ता वो शख्स है जिससे श्रद्धा की शादी तय हुई थी। लेकिन विवेक का चाल-चलन अच्छा न होने की वजह से श्रद्धा ने उससे शादी करने से इनकार कर दिया था।श्रद्धा के घर वालों का कहना है कि श्रद्धा के शादी न करने से नाराज विवेक श्रद्धा को बहुत ज्यादा परेशान करता था और बड़े पुलिस अफसरों से उसे फोन करवा कर परेशान करता था। बहरहाल, पुलिस ने आईपीएस आशीष तिवारी समेत तीनों पर आत्महत्या के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज कर लिया है।पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद जांच शुरू कर दी है.हालांकि पुलिस अधिकारियों की ओर से इस बारे में ज्यादा कुछ कहने से इनकार किया गया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का अयोध्या दौरा‌ आज

0

अयोध्या। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहुंचे अयोध्या। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का काफिला राम जन्म भूमि के लिए रवाना हुआ।

बैंक कर्मी युवती ने लगाई फांसी, छोड़ा सुसाइड नोट*

0

बैंक कर्मी युवती ने लगाई फांसी, छोड़ा सुसाइड नोट* *सुसाइड नोट में दो पुलिसकर्मी समेत तीन पर लगाया प्रताड़ना का आरोप*

अयोध्या

कोतवाली नगर के खवासपुरा स्थित किराये के मकान पर रह रही एक बैंक कर्मी युवती का शव कमरे में फांसी से लटकता मिला। मकान मालिक ने इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को जिसपर मौके पर पहुंची पुलिस ने युवती के शव को फंदे से उतार कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना स्थल पर पहुंचे एसएसपी शैलेष कुमार पांडेय ने बताया की मृतका 30 वर्षीय श्रद्धा गुप्ता पुत्री राज कुमार गुप्ता मूल निवासिनी सेक्टर 13 राजाजीपुरम लखनऊ जो अयोध्या के सुभाष चंद्र बोस मार्ग स्थिति पंजाब नैशनल बैंक की शाखा में कार्यरत थी। एसएसपी ने बताया कि माकन मालिक ने पुलिस को सूचना दी कि उनके मकान में किराये पर रह रही युवती ने अपने कमरे में फांसी लगा लिया है जिसका शव रूपट्टे से लटका है। मौके पर पहुंची पुलिस से शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु भेजा। कमरे की जांच के दौरान उसके कमरे से युवती द्वारा छोड़ा गया एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। जिसमें युवती ने तीन लोगों को अपनी मौत का जिम्मरदार बताया हैं। एसएसपी ने बताया कि युवती ने दो पुलिस कर्मी समेत तीन लोगों के नाम का जिक्र करते हुए अपनी मौत का जिम्मेदार बताया है।  उन्होंने बताया कि मृतका द्वारा छोड़े गए सुसाइड नोट व मोबाइल के आधार पर जांच कर रही है।

केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह जी ने सदस्यता अभियान का किया शुभारम्भ

0

भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं केन्द्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह ने शुक्रवार को राजधानी लखनऊ के डिफेंस एक्सपो मैदान, वृन्दावन योजना से भारतीय जनता पार्टी के सदस्यता अभियान का शुभारम्भ किया। श्री शाह ने अवध क्षेत्र के शक्ति केन्द्र संयोजकों व प्रभारियों को सम्बोधित करते हुए अबकी बार 300 पार के विजय संकल्प का उद्घोष किया। इसके साथ ही श्री शाह ने मोदी इलेवन ऐप को लांच किया तथा पार्टी के चुनाव प्रचार एलईडी रथों को झंडी दिखाकर विजय पथ पर रवाना किया। इस दौरान केन्द्रीय मंत्री व प्रदेश के चुनाव प्रभारी श्री धर्मेन्द्र प्रधान, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश प्रभारी श्री राधा मोहन सिंह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री स्वतंत्र देव सिंह, केन्द्रीय मंत्री एव प्रदेश के चुनाव सहप्रभारी श्री अनुराग ठाकुर, उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य, डा. दिनेश शर्मा, केन्द्रीयमंत्री डा. महेन्द्र नाथ पाण्डेय, श्री कौशल किशोर, श्री अजय मिश्र, श्री संजीव वालियान सहित कई अन्य वरिष्ठ पार्टी पदाधिकारी व प्रमुख नेता भी उपस्थित रहे।


मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी की कथनी और करनी में एकरूपता है। भाजपा जो कहती है वो करती है। शुक्रवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की उपस्थिति में भाजपा के वृहद सदस्यता अभियान के शुभारंभ मौके पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि वर्ष 2014 में देश ने एक अंगड़ाई ली थी। देश में एक नई राष्ट्रीय चेतना का संचार हुआ। दशकों तक वंचित, शोषित और पीड़ित रहे लोगों के जीवन में खुशहाली आई। योगी ने कहा कि 2014 के बाद न केवल शासन की योजनाओं का लाभ इन लोगों तक पहुंचाने का काम हुआ बल्कि भारत की अस्मिता से जुड़े हुए मुद्दों और मूल्यों की पुनर्स्थापना का जो कार्य हुआ। गरीब कल्याणकारी योजनाएं हों या फिर भारत के आन-बान और शान, भारत की एकता-अखंडता को अक्षुण्ण रखते हुए एक भारत-श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना, सब को साकार करने का का कार्य हुआ। लखनऊ आगमन पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का अभिनंदन करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर निर्माण का सपना संजोए हर भारतीय के मन में एक टीस थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में केंद्रीय गृह मंत्री के रूप में अमित शाह जी ने अयोध्या विवाद का समाधान कराया। गांव-गांव, जिले-जिले, मंडल-मंडल घूमे और 2014 में प्रदेश प्रभारी के रूप में और फिर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में भारतीय जनता पार्टी को ऐतिहासिक जीत दिलाई। दुनिया के सबसे बड़े राजनीतिक दल के रूप में भाजपा को प्रतिष्ठापित किया। सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री के मार्गदर्शन में भाजपा के लाखों कार्यकर्ता प्राण-प्रण से अपना योगदान कर एक बार फिर भाजपा को जीत दिलाएंगे।


भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी सरकार आने के बाद युवाओं को बिना रिश्वत के नौकरी मिल रही है। इसके पहले सपा सरकार में सूची सैफई से बनकर आती थी। श्री सिंह ने कहा कि भारतीय राजनीति को राष्ट्रधर्म का बोध कराने वाले नेतृत्व और व्यक्त्वि का नाम है श्री अमित भाई शाह, जो वाणी में ओजस्विता एवं कार्य की तेजस्विता से आज भारतीय जनमानस के प्रेरणापुंज है। अमित भाई शाह जी की कार्यशैली पूर्ण परिणाम पर आधारित है। वह परिणाम भेदी लक्ष्य लेकर चलते है। चाहे वह सामान्य कार्यकर्ता के रूप में बूथो पर गुजरात में संगठन का कार्य हो या फिर उत्तर प्रदेश में 2014, 2017 व 2019 का चुनाव अब तक इतिहास मे सर्वाधिक सीटें जीतकर आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में प्रंचड जनादेश की सरकार हो या फिर चाहे भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय यशस्वी अध्यक्ष के रूप में विश्व के सबसे बडे राजनैतिक दल होने का गौरव पार्टी को दिलवाया हो।
उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं का सम्मान, कार्यकर्ता भाव की जागृति आपके अध्यक्षीय कार्यकाल में हुई है। सशक्त, समर्थ और आत्मनिर्भर भारत के लिए पहली बार सहकारिता मंत्रालय का गठन और जिम्मेदारी आपको मिलने से देश को संबल प्राप्त हो रहा है। आज हम इस स्वर्णिमकाल के साक्षी बन रहे है, जिसमें सेवा, संगठन का नेतृत्व निश्चित रूप से आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी कर रहे हैं। लेकिन उनके पीछे सामूहिक शक्ति एवं जागृति करने वाले कर्म योगी आदरणीय अमित भाई शाह का वन्दन और हार्दिक अभिनंदन करता हूं। उन्होंने कहा कि संगठन की सदस्यता का आज शुभारम्भ हो रहा हैं, जो पार्टी के नए सदस्य व कार्यकर्ता निर्माण में सहायक होगा।


केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की कार्यशैली की तारीफ करते हुए श्री सिंह ने कहा कि 2014 के बाद उत्तर प्रदेश में जितने भी चुनाव हुए सभी की रणनीति अमित शाह ने तय की और पार्टी को अपार सफलता मिली। वे लक्ष्य तय कर कार्य शुरू करते हैं। उन्होंने बूथ कार्यकर्ताओं का आवाहन किया है की प्रदेश में फिर एक बार भाजपा की सरकार बनाने के लिए पूरी ताकत से जुट जाएं। हमारे पास नरेंद्र मोदी जैसा नेतृत्व अमित शाह जी जैसा रणनीतिकार और प्रदेश में योगी जैसा मुख्यमंत्री है। भाजपा ने गरीबों के लिए बहुत कार्य किया है, इसे जनता तक पहुंचाना है। उन्होंने कहा कि भाजपा के संगठन को पंडित दीनदयाल उपाध्याय जैसे कर्मठ कार्यकर्ताओं ने खड़ा किया है। प्रदेश में जब सपा-बसपा की सरकार थी तो बेटियां घर से बाहर भी नहीं निकल सकती थी। योगी सरकार बनने के बाद अब आधे रात को भी लड़कियां निर्भय होकर सड़कों पर चल रही है। भ्रष्टाचार का खात्मा हुआ है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा कार्यकर्ता 2017 का परिणाम दोहराने के लिए तैयार हैं।


उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि 2014 में क्या कोई कल्पना कर सकता था कि दस सांसद वाली पार्टी को उत्तर प्रदेश से 73 सांसद मिलेगें ये माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंन्द्र मोदी जी और केन्द्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह जी के कुशल नेतृत्व का नतीजा रहा। इसी तरह इन्हीं के कुशल नेतृत्व में हमने 2017 में प्रचंड बहुमत के साथ उत्तर प्रदेश में सरकार बनाई। पहले जब हम कश्मीर से धारा 370 हटाने और अयोध्या में राम मंदिर बनाने की बात करते थे तो लोग विश्वास नहीं करते थे। 70 साल की समस्या को गृह मंत्री अमित शाह ने 70 मिनट में खत्म कर दिया।


उपमुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा जी ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी और पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं केन्द्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह जी के नेतृत्व में पूरे देश में कार्यकर्ताओं में जोश आया और हम लगातार एक के बाद एक राज्य का चुनाव जीतते चले गय। उत्तर प्रदेश में आज स्थितियां बदली हैं। एक बार फिर हम उन्हीं चुनौतियों का सामना करने जा रहे हैं जो चुनौतियां 2017 में हमारे सामने थी कोई जातीय सम्मेलन कर रहा था तो कोई बाहुबलियों को साथ लेकर धमका रहा था तो कोई विदेशी धन के सहारे चुनौती दे रहा था।
लेकिन भाजपा कार्यकर्ताओं ने सारी चुनौतियों को विफल किया भाजपा ने जो कहा वह किया 5 साल के शासन में हमने जो किया वह पहले कभी नहीं हुआ 11000 करोड़ की अर्थव्यवस्था को हमने 22000 करोड़ की अर्थव्यवस्था में तब्दील किया। कोई महाराष्ट्र से आकर चुनौती दे रहा है तो कोई हैदराबाद से तो कोई पश्चिम बंगाल से हमें इन सभी चुनौतियों को विफल करना है। जब सपा-बसपा मिलकर लड़ी तभी हमारे कार्यकर्ताओं ने उनके मंसूबे विफल किए। सपा-कांग्रेस मिलकर लड़ी तब भी भाजपा नंबर 1 रही। एक बार फिर सभी चुनौतियों का सामना करने के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं की फौज तैयार है।

मृतक किसानों के कर्ज को कांग्रेस करेगी अदा – प्रियंका गांधी वाड्रा

0

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी जी आज ललितपुर के पाली गांव पहुंच कर पीड़ित किसान परिवारों से मिलीं और उनका दुख साझा किया। उन्होंनें कहा कि मृतक किसान परिवार के कर्ज को कांग्रेस पार्टी अदा करेगी। बुन्देलखण्ड में खाद की भारी किल्लत से जूझ रहे हैं। पाली के किसान भोगी पाल और महेश कुमार बुनकर खाद की लाइन में लगे थे। कई दिनों तक लाइन में लगे रहने के बावजूद उन्हें खाद नहीं मिली। लाइन में लगे-लगे उनकी हालत खराब हो गई और मृत्यु हो गई। किसान सोनी अहिरवार और बबलू पाल खाद न मिलने के चलते परेशान थे और उन्होंने आत्महत्या करके अपनी जान दे दी। इन सभी किसानों पर भारी-भरकम कर्ज है और फसल बर्बादी व मुआवजा न मिलने जैसी समस्याओं से परेशान थे। प्रियंका गांधी जी ने उनके परिजनों से मिलकर दुख बांटा।


प्रियंका गांधी ने कहा कि यह समस्या नई नहीं है, चार किसानों की मौत के बावजूद पूरे बुन्देलखण्ड में यही हो रहा है। सरकार की क्रूरता चरम पर है। इससे पहले लखीमपुर में केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री के बेटे ने किसानों को कुचल दिया था, और वह मंत्री अभी भी पद पर है। मंत्री के पद पर रहते हुए निष्पक्ष जांच कैसे हो सकती है। बुन्देलखण्ड के किसानों की स्थिति चिंताजनक है। वहा के किसान अपने परिवार को पालने के लिए संघर्ष कर रहें हैं, उनकी समस्या सुनकर दिल दहल जा रहा है। भाजपा सरकार की कुनीतियों से किसान कर्ज में डूबता जा रहा हैं। खाद नहीं मिल पा रही है, बिजली नहीं आ रही है और बिल भरने पड़ रहें है। सरकार व अधिकारियों के संरक्षण में खाद की कालाबाजारी की जा रही है जिससे किसानों को खाद नहीं मिल पा रही है, इसकी जांच अवश्य होनी चाहिए।
श्रीमती प्रियंका गांधी जी ने कहा कि जब कांग्रेस की सरकार बनेगी गेहूं व धान का समर्थन मूल्य 2500 रूपये प्रति कुन्तल और गन्ना 400 रूपये प्रति कुन्तल की दर से खरीद की जायेगी, किसानों का पूरा कर्जा माफ किया जायेगा। श्रीमती प्रियंका गांधी जी लौटते समय दतिया में मॉ पीताम्बरा शक्ति पीठ में माता के दरबार में माथा टेका और पूजा अर्चना की, उत्तर प्रदेश की खुशहाली के लिए कामना की।  

रामानन्द चौहान बनाए गए जनकल्याणकारी योजना के जिला उपाध्यक्ष

0

दर्शननगर, अयोध्या। प्रधानमंत्री जनकल्याणकारी योजना प्रचार-प्रसार अभियान (युवा-प्रभाग) के जिलाध्यक्ष श्री गनेश्वर प्रसाद ने

दर्शननगर के युवा रामानन्द चौहान ‘समाजसेवी’ को प्रधानमंत्री जन कल्याणकारी योजना (युवा-प्रभाग) अयोध्या का जिला उपाध्यक्ष नियुक्त किया है ।रामानन्द चौहान ‘समाजसेवी’ के जिला उपाध्यक्ष बनाए जाने से संगठन के सभी पदाधिकारियों सहित क्षेत्र के युवाओं में खुशी की लहर है।

मित्रों मनीष यादव, अभिषेक मौर्य, अवनीश मौर्य, अतुल मौर्य, विवेक मिश्रा, रवीन्द्र कुमार विश्वकर्मा, कुलदीप प्रजापति एवं अन्य सभी शुभचिंतकों ने शुभकामनाएँ दीं।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 40 प्रतिशत टिकट महिलाओं को- प्रियंका गांधी वाड्रा

0

उत्तर प्रदेश की राजनीति में ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा ने आगामी उत्तर प्रदेश विधान सभा के चुनाव में कांग्रेस पार्टी द्वारा 40 प्रतिशत महिलाओं को उम्मीदवार बनाने की घोषणा के साथ ही प्रदेश की महिलाओं को राजनैतिक रूप से सशक्त बनाने की दिशा में पहली प्रतिज्ञा का ऐलान कर दिया। उन्होंनें ‘‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’’ के उद्घोष के साथ ही प्रदेश की राजनैतिक दिशा बदलने का भी मार्ग प्रशस्त कर दिया है। एक ऐसी राजनीति, जिसमें महिलाओं की सम्मानजनक भागीदारी होगी, उनकी संघर्ष क्षमता एवं शक्ति को सम्मान मिलेगा और राजनैतिक भागीदारी सुनिश्चित होगी।
श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा अपने दो साल से अनवरत जारी उत्तर प्रदेश भ्रमण एवं प्रदेश सरकार के अत्याचार के खिलाफ संघर्ष की राह पर रूबरू तमाम महिलाओंं का जिक्र करते हुए कहा कि हमारी प्रतिज्ञा है कि महिलाएं उत्तर प्रदेश की राजनीति में पूरी तरह से भागीदार होगीं। आप समाजसेविका है, अध्यापक हैं, एक नौजवान महिला हैं जो अपना भविष्य बनाना चाहतीं हैं, आप प्रेस में हैं अगर आप बदलाव चाहतीं हैं तो इंतजार मत करिए। उन्होंनें महिलाओं का आह्वान करते हुए कहा कि राजनीति में आइए, मुझसे कंधे से कंधा मिलाइए और विकास की राजनीति को आगे बढ़ाइए।


उन्होनें 40 प्रतिशत भागीदारी की घोषणा के पीछे की कहानी का जिक्र करते हुए कहा कि ‘‘जब मैं 2019 के चुनाव में उत्तर प्रदेश प्रचार के लिए आयी थी तो इलाहाबाद युनिवर्सिटी की कुछ लड़कियां मुझसे मिलीं थीं और उन्होंनें मुझसे बताया कि किस तरह से युनिवर्सिटी के नियम कानून उनके लिए अलग थे और पुरूषों के लिए अलग। यह निर्णय उनके लिए है। यह निर्णय उनके लिए है जिसने गंगा यात्रा के दौरान मेरी नाव को वापस तट पर बुलाकर कहा कि मेरे गांव में पाठशाला नहीं है और मैं अपने बच्चों को पढ़ाना चाहती हूं। यह निर्णय प्रयागराज की उस लड़की ‘‘पारो’’ के लिए है, जिसने मेरा हाथ पकड़कर कहा था कि दीदी मैं नेता बनना चाहती हूं। यह निर्णय चंदौली में शहीद एयरफोर्स के पायलट की बहन वैष्णवी के लिए है जिसने मुझे कहा था कि उनके भाई शहीद हो गये लेकिन वह पायलट बनना चाहती है। यह निर्णय सोनभद्र में उस महिला के लिए है जिसका नाम ‘‘किस्मत’’ है जिसने अपने लोगों के लिए आवाज उठाई, संघर्ष किया और न्याय मांगा। यह निर्णय उन्नाव की उस लड़की के लिए है जिसे जलाया गया, मारा गया, उसकी भाभी के लिए है जो आज भी संघर्ष कर रही है, उसकी भाभी की नौ साल की बेटी के लिए है जिसे स्कूल में धमकाया गया था। यह निर्णय हाथरस की उस मां के लिए है जिसने मुझे गले लगाकर कहा था कि उसको न्याय चाहिए, उसको न्याय नहीं मिल रहा है। यह निर्णय रमन कश्यप की बेटी के लिए है जिसका नाम भी वैष्णवी है जो बड़े होकर डाक्टर बनना चाहती है। लखीमपुर में एक लड़की मुझसे मिली, मैनें उससे पूछा क्या बनना चाहती हो बड़ी होकर उसने कहा मैं प्रधानमंत्री बनना चाहतीं हूं उसके लिए है यह निर्णय। यह निर्णय लखनऊ की एक बस्ती में लक्ष्मी बाल्मीकी के लिए है जो आईटीआई पढ़ी हैं, बीए किया है, कम्प्यूटर पास किया है, आज तक उसे नौकरी नहीं मिली है। लखीमपुर जाते हुए पुलिस कर्मियों ने मुझे घेर लिया, मुझसे लड़ीं, मैं भी भिड़ गयी उनसे, मुझे जीप में बिठाया, दो महिला कांस्टेबल और दो पुरूष कांस्टेबल के साथ सीतापुर पीएसी कम्पाउण्ड ले गये, उसमें एक का नाम मधु और दूसरे का नाम पूजा था, यह निर्णय उनके लिए भी है, क्योंकि मैं समझ रही थी कि वह सुबह 4 बजे डयूटी पर थीं। उनकी एक अफसर जिनकी पोस्टिंग सीतापुर में थी और उनकी बूढी मां नोएडा में थी। यह निर्णय लखीमपुर की रितु सिंह के लिए है जिनका ब्लाक प्रमुख चुनाव के दौरान चीरहरण किया गया था। कितना संघर्ष करना होता महिलाओं को, कौन करेगा यह संघर्षं, अगर महिलाएं एकजुट नहीं होगीं। यह निर्णय उत्तर प्रदेश की हर एक महिला के लिए है जो बदलाव चाहती है, न्याय चाहती, जो एकता चाहती है, जो चाहती है कि उसका प्रदेश आगे बढ़े। सब बातें करते हैं लेकिन जब सुरक्षा करने का समय आता है तब मदद करने कोई नहीं आता। मदद् उनकी करते है जो आपको कुचलते हैं, आज सत्ता का नाम यह है कि आप खुलेआम सबके सामने लोगों को कुचल सकतें हैं यह सत्ता बन गयी है, यह गलत है। घृणा का बोलबाला है, नफरत का बोलबाला है यह गलत है इसको महिलाएं ही बदल सकतीं हैं। महिलाएं इसलिए बदल सकती हैं क्योंकि करूणा भाव, सेवाभाव, और दृढता शक्ति सबसे ज्यादा महिलाओं में है। यहां मेरे प्रेस की सहेलियां है मैं जानतीं हूं कि आपका संघर्ष क्या है, सुबह से शाम तक आप कैसे दौड़ती हैं।
अगर देश प्रदेश को जाति धर्म की राजनीति से निकालकर विकास की राजनीति की ओर ले जाना है, अगर देश को समता की राजनीति की ओर ले जाना है, भागीदारी की राजनीति की ओर ले जाना है तो महिलाओं को आगे बढ़ना पड़ेगा, खुद राजनीति करना पड़ेगा, आगे बढिए, मैं आग्रह करती हूं आपसे। मैनें विधानसभा के लिए आवेदन पत्र मांगा है यह अगले महीने की 15 तारीख तक खुले रहेंगें खासकर मेरी बहनों के लिए। जो लड़ना चाहतीं हैं आएं मेरें पास आपको मौका मिलेगा। हम इस देश प्रदेश की राजनीति को बदलेंगें।
एक प्रश्न का उत्तर देते हुए उन्होंनें कहा कि मैं उत्तर प्रदेश कांग्रेस की प्रभारी हूं हमने यहां पर 40 प्रतिशत भागीदारी का निर्णय लिया है। यहां भागीदारी बढ़ेगी तो नेशनली भी बढ़ेगा। एक और प्रश्न का जबाव देते हुए उन्होंनें कहा कि राजनैतिक पार्टियां सोचती है कि एक गैस सिलेण्डर देकर, दो हजार रूपये देकर खुश कर देगें, लेकिन जो महिला का संघर्ष है बहुत लम्बा है और गहरा संघर्ष है। जब तक हम समझेगें नहीं कि एकजुट होकर लड़ाई लड़नी है तब तक राजनीति में बदलाव नहीं आ सकता है। हम एकजुट होकर लड़ें और जब कोई महिला लड़ रही है तब मेरे मन में यह आए कि यह मेरी बहन लड़ रही है मुझे इसके साथ मिलकर लड़ना चाहिए।  
  पत्रकार वार्ता में उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू, नेता विधानमण्डल दल श्रीमती आराधना मिश्रा मोना, वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सांसद श्री प्रमोद तिवारी, इलेक्शन मैनिफेस्टो कमेटी के चेयरमैन श्री सलमान खुर्शीद, इलेक्शन कैपेंन कमेटी के चेयरमैन श्री पीएल पुनिया, राष्ट्रीय प्रवक्ता श्रीमती सुप्रीया श्रीनेत, चार्जशीट कमेटी के चेयरमैन श्री आचार्य प्रमोद कृष्णम्, मीडिया विभाग के चेयरमैन व पूर्व मंत्री श्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी, विधान परिषद दल के नेता श्री दीपक सिंह भी उपस्थित रहे।