Array

चीन ने जारी किया गलवान झड़प का वीडियो, खुद को बता रहा शांति का पुजारी

पेइचिंग
चीन ने लद्दाख के गलवान घाटी में हुई झड़प में सैनिकों की मौत का सच स्वीकार करने के बाद इस घटना का एक वीडियो भी जारी किया है। जिसमें गलवान में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच टकराव को दिखाया गया है। चीनी मीडिया ग्लोबल टाइम्स ने इस वीडियो को जारी कर भारतीय सेना पर हमला करने का उल्टा आरोप भी लगाया है। हालांकि, भारत के तरफ से इस वीडियो को लेकर अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है। वहीं, कई विशेषज्ञों ने भी इस वीडियो को पुराना बताया है।

वीडियो जारी कर दिखाई हिंसक झड़प
इस वीडियो में नदी के किनारे चीनी पोस्ट दिखाई दे रही है। जिसके बाद के सीन में भारतीय सेना के एक अधिकारी आक्रामक चीनी सैनिकों के साथ खड़े दिखाई देते हैं। इस घटना के तुरंत बाद सैकड़ों की संख्या में चीनी सैनिक लाठी-डंडों के साथ भारतीय सैनिकों को घेरते नजर आते हैं। इसके बाद के सीन में कई चीनी सैनिक घायल अवस्था में जमीन पर पड़े हुए दिखाई देते हैं। वीडियो के अंत में गलवान हिंसा में मारे गए चीनी सैनिकों की तस्वीरों को दिखाया गया है।

चीन ने बताए मारे गए पीएलए के सैनिकों के नाम
चीन की सेना ने गलवान घाटी में भारतीय जवानों के हाथों मारे गए सैनिकों को श्रद्धांजलि दी और एक वीडियो भी जारी किया है। चीन ने मारे गए 4 सैनिकों के नाम भी बताए हैं। ये हैं-चेन होंगजून, चेन श‍िआंगरोंग, शियाओ सियुआन, वांग झुओरान। चीनी सेना ने कहा कि इन सैनिकों ने राष्‍ट्रीय संप्रभुता और अपनी जमीन की रक्षा करते हुए जान दे दी। मारे गए चीनी सैनिकों में एक बटैलियन कमांडर और तीन सैनिक थे। संघर्ष के दौरान चीनी सेना का रेजिमेंटल कमांडर गंभीर रूप से घायल हो गया था।

भारतीय सेना पर लगाया उल्टा आरोप
चीन के सेंट्रल मिल‍िट्री कमिशन ने कि फाबाओ को ‘हीरो’ के अवार्ड से सम्‍मानित किया है। चीन ने आरोप लगाया कि भारतीय सेना ने अवैध तरीके से गलवान घाटी में वास्‍तविक नियंत्रण रेखा को पार किया था। चीनी सेना ने आरोप लगाया कि भारतीय सेना स्‍टील की ट्यूब, लाठी और पत्‍थरों से पीएलए के सैनिकों पर हमला किया। चीनी सेना के अखबार पीएलए ने कहा, ‘अप्रैल 2020 से विदेशी सेना (भारत) ने पहले हुए समझौतों का उल्‍लंघन किया…वे सीमा में घुस आए ताकि सड़कें और पुल बनाया जा सके।’

चीन ने कहा-भारत ने यथास्थिति को बदला
चीनी सेना के अखबार ने कहा कि भारतीय सेना ने जानबूझकर उकसाया और सीमा पर यथास्थिति को बदलने की कोशिश की…भाारतीय सैनिकों ने बातचीत करने गए चीनी सैनिकों पर हमला भी किया।’ एक चीनी सैनिक चेन ने अपनी डायरी में लिखा, ‘हमारे शत्रु (भारतीय सैनिक) संख्‍या में हमसे बहुत ज्‍यादा थे लेकिन हम घबराए नहीं। उनके पत्‍थर से हमले के बीच हमने उन्‍हें पीछे धकेल दिया।’

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,037FansLike
2,875FollowersFollow
18,100SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles