बंगाल में ममता बनर्जी के काला सच का पर्दाफाश,सच आया सामने ,मां,बेटियों और बहनों की कराती हैं तस्करी

कॉन्ग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने मंगलवार (मार्च 16, 2021) को तृणमूल कॉन्ग्रेस पर बड़ा आरोप लगाया। कॉन्ग्रेस नेता का कहना है कि टीएमसी राज्य में लड़कियों की तस्करी का काम कराती है। वह बोले कि यहाँ आरोपित इसलिए नहीं पकड़े जाते क्योंकि सत्ताधारी पार्टी का इसमें हाथ होता है।

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, उन्होंने कहा, “कोयला तस्करी के साथ बंगाल गौ तस्करी के लिए भी कुख्यात स्थान माना जाता है। यहाँ हमारी माँ, बेटियाँ और बहनों की भी तस्करी होती है। बंगाल की सत्ताधारी पार्टी और ब्यूरोक्रेसी मिल कर ये सब करते हैं। इसलिए कोई नहीं पकड़ा जाता।”

बता दें कि कॉन्ग्रेस नेता ने ममता सरकार पर अम्फान तूफान के दौरान जरूरतों पर ध्यान न देने का आरोप लगाया और कहा कि यहाँ लोगों को जबरन लड़कियों की तस्करी के लिए मजबूर किया जाता है।

इससे पहले अधीर रंजन चौधरी ने मुख्यमंत्री पर सियासी पाखंड और नौटंकी करने का भी आरोप लगाया है। उन्होंने कहा था, “नंदीग्राम समेत पूरे बंगाल में स्थिति खराब होते देख ममता अब खुद पर हमले का नाटक करके लोगों की संवेदना बटोरने की कोशिश कर रही हैं।”

बता दें कि कॉन्ग्रेस नेता ने ममता सरकार पर अम्फान तूफान के दौरान जरूरतों पर ध्यान न देने का आरोप लगाया और कहा कि यहाँ लोगों को जबरन लड़कियों की तस्करी के लिए मजबूर किया जाता है।

इससे पहले अधीर रंजन चौधरी ने मुख्यमंत्री पर सियासी पाखंड और नौटंकी करने का भी आरोप लगाया है। उन्होंने कहा था, “नंदीग्राम समेत पूरे बंगाल में स्थिति खराब होते देख ममता अब खुद पर हमले का नाटक करके लोगों की संवेदना बटोरने की कोशिश कर रही हैं।”

नंदीग्राम में चोटिल हुई ममता पर अधीर रंजन चौधरी ने सवाल उठाया था कि आखिर घटना के समय मुख्यमंत्री की पूरी सिक्योरिटी कहाँ चली गई थी? पूरे इलाके में सीसीटीवी है जबकि जाँच हो जाए तो दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। ममता बनर्जी ने पाँव पर लगे प्लास्टर पर उन्होंने कहा, “थोड़ी बहुत चोट तो किसी को चलते-फिरते भी लग जाती है, ममता केवल पाखंड कर रही हैं।”

यहाँ बता दें कि बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर कॉन्ग्रेस नेता दावा कर चुके हैं कि इस बार वाम-कॉन्ग्रेस धर्मनिरपेक्ष ताकतों के साथ मिल कर बंगाल विधानसभा चुनाव में टीएमसी और बीजेपी दोनों को हराएगा। उनका कहना है कि भाजपा और तृणमूल कॉन्ग्रेस चाहती हैं कि इन दोनों दलों के अलावा कोई राजनीतिक ताकत न रहे। जबकि भविष्य में भाजपा या टीएमसी कोई नहीं होगा, सिर्फ़ महागठबंधन होगा।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,037FansLike
2,878FollowersFollow
18,100SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles