भारत से इतनी बड़ी संख्या में इजरायल जाने वाले कौन हैं ये लोग ? क्या है कनेक्शन

मणिपुर से इजरायल जाने के लिए दो सौ से अधिक लोग दिल्ली पहुंचे हुए थे लेकिन कोरोना के चलते इनमें से कई जा नहीं सके। राजधानी दिल्ली के करोलबाग के एक होटल में ठहरे ये लोग जब एयरपोर्ट पहुंचे तो इनमें से 40 कोरोना जांच में पॉजिटिव निकले। सभी को गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब में बने श्री गुरु तेगबहादुर कोविड केयर सेंटर में भर्ती कराया गया है। इनमें कोई गंभीर लक्षण नहीं है लेकिन इतनी बड़ी संख्या में इजरायल जाने वाले ये कौन लोग हैं?

इजरायल से क्या है कनेक्शन
क्या इनका वहां से कोई कनेक्शन है। इजरायल जाने के लिए निकले ये सभी बीनेई मेनाशे समुदाय से हैं। देश के पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर और मिजोरम में बीनेई मेनाशे समुदाय के दस हजार से अधिक यहूदी लोग रहते हैं। बीनेई मेनाशे समुदाय के इन लोगों का मानना है कि इनका नाता मेनाशे समुदाय से है जो इजरायल की 12 गोत्रों में से एक है। पिछले दो दशक में काफी संख्या में यहां से यहूदी समुदाय के लोग इजरायल गए हैं।

यहूदी समुदाय के इनलोगों की वहां जाकर बसने की इच्छा है और इजरायली सरकार की ओर से इन्हें नागरिकता भी प्रदान की जा रही है। मणिपुर के चुराचांदपुर जिले से काफी संख्या में यहूदी समुदाय को लोग इजरायल जाकर बस भी चुके हैं। साथ ही कई वहां अभी जाने वाले हैं। इनमें से कई का मानना है कि उनके पूर्वज वहां के हैं और वो अपनी भूमि पर वापस लौटना चाहते हैं।

यहूदी समुदाय के इनलोगों की वहां जाकर बसने की इच्छा है और इजरायली सरकार की ओर से इन्हें नागरिकता भी प्रदान की जा रही है। मणिपुर के चुराचांदपुर जिले से काफी संख्या में यहूदी समुदाय को लोग इजरायल जाकर बस भी चुके हैं। साथ ही कई वहां अभी जाने वाले हैं। इनमें से कई का मानना है कि उनके पूर्वज वहां के हैं और वो अपनी भूमि पर वापस लौटना चाहते हैं।

ऐसा माना जाता है कि उन्होंने सदियों से अपनी प्राचीन यहूदी परंपराओं का पालन किया, इस बात से अनजान कि वे इजरायल की खोई हुई जनजातियों में से एक के वंशज थे।

क्यों बुला रहा है इजरायल
पूर्वोत्तर भारत में बीनेई मेनाशे समुदाय से 160 यहूदी सोमवार को इजरायल पहुंचे जबकि 40 सदस्यों के कोविड-19 संक्रमित पाये जाने के कारण115 अन्य भारत में रह गये। भारत से कुल 275 यहूदियों को सोमवार को इजरायल जाना था। गैर सरकारी संगठन शावी इजरायल गुम हो रही इस प्रजाति के यहूदियों (जो इजरायल आने को उत्सुक हैं) को वापस लाने की मुहिम चला रहा है। उसने इजरायल में रह रहे नी मेनाशे समुदाय के अधिकतर सदस्यों के अलियाह (आव्रजन) से समन्वय किया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,037FansLike
2,875FollowersFollow
18,100SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles